नेत्रदान को जीवन का बताया सबसे बड़ा दान

  |   Lalitpurnews

नेत्रदान करना जीवन का महादान है : सौरभ

ललितपुर। पहलवान गुरुदीन ग्रुप ऑफ कालेज के सभागार में नेत्रदान पखवाड़ा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान बताया गया कि किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके विभिन्न अंगों का दान किया जा सकता है। इसमें ऐसा ही एक अंग आंख भी है। उन्होंने नेत्रदान को जीवन का महादान बताया।

कार्यक्रम में प्रबंध निदेशक सौरभ यादव ने बताया कि नेत्रदान करना जीवन का महादान है। राष्ट्रीय नेत्रदान पखवाड़ा हर वर्ष 25 अगस्त से आठ सितंबर के बीच मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य नेत्रदान के महत्व के बारे में लोगों में व्यापक स्तर पर जागरूकता बढ़ाना है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, मनुष्य की आंखों में कार्निया की बीमारियां पनप रही हैं, जो अंधेपन का मुख्य कारण है।...

फोटो - http://v.duta.us/_K8oIgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/vv-LXQAA

📲 Get Lalitpur News on Whatsapp 💬