पितृपक्ष 2019: यदि ऐसे की पूजा तो नाराज हो जाएंगे पितर, भूलकर न करें ये काम

  |   Jabalpurnews

जबलपुर/ सनातन धर्म के अनुसार गणेश विसर्जन यानि अनंत चतुर्दशी के दूसरे दिन पूर्णिमा तिथि के दिन से पितृ पक्ष शुरू हो जाते हैं। इस बार पितृपक्ष 13 सितम्बर से शुरू हो रहे हैं। सुबह की पहली किरण के साथ ही हजारों की संख्या में लोग नदी तालाबों में अपने पितरों को लेने पहुंच जाएंगे। 16 दिन चलने वाले इस पर्व का पितृमोक्ष अमावस्या 28 सितम्बर को समापन होगा। पर्व के दौरान प्रत्येक दिन पूर्वजों का ध्यान पूजन के साथ भोजन कराया जाएगा।

ज्योतिषाचार्य सचिनदेव महाराज के अनुार पितृपक्ष में ज्ञान अज्ञात पूर्वजों का पिंडदान व तर्पण करना उनकी आत्मा को शांति प्रदान कर मोक्ष मार्ग प्रशस्त करता है। इसलिए इनकी पूजा विधि पूर्वक करना आवश्यक है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पिंडदान में की गई लापरवाही से पितरों की आत्मा नाराज हो सकती है। ऐसे में वे आशीर्वाद दिए बिना ही लौट जाते हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/aIBTBgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/IDt54AAA

📲 Get Jabalpur News on Whatsapp 💬