फिंगर प्रिंट क्लोन से ठगी का फर्जीवाड़ा

  |   Gwaliornews

ग्वालियर. फिंगर प्रिंट क्लोनिंग के जरिए सरकारी नौकरी लगाने का धंधा करने वालों का लिंक कोचिंग और स्कूल शिक्षकों से जुड़ता मिल रहा है। मुरैना इस फरेब का सेंटर बनकर सामने आ रहा है। दो साल में सिपाही भर्ती परीक्षा में फिंगर प्रिंट क्लोन के जरिए फर्जीवाड़ा करने में मुरैना के दो शिक्षकों के नाम सामने आए हैं। पकड़े गए आरोपियों ने ताल ठोककर पुलिस से कहा है कि उन्हें टीचर्स ने ही पास कराने का ठेका लिया था। उनके फिंगर प्रिंट के क्लोन भी बनाए थे। इन मामलों में सिर्फ रंगे हाथ पकड़े गए आरोपियों पर ही कार्रवाई हुई है। फिंगर प्रिंट बनाने वाली गैंग अभी भी शिकंजे से बाहर है।...

फोटो - http://v.duta.us/uEv-WwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4sT0HQAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬