बागपत के लाल पर गर्व, किया जिले का नाम रोशन, जापान में मिला 'युवा वैज्ञानिक पुरस्कार'

  |   Meerutnews

बागपत जनपद में ट्योढ़ी गांव के रहने वाले वैज्ञानिक डॉ. रामकरण शर्मा को जापान में बेहतर शोध पत्र प्रस्तुति करने पर युवा वैज्ञानिक पुरस्कार दिया गया। 35 देशों के 150 वैज्ञानिकों में इनका शोध सर्वश्रेष्ठ रहा। डॉ. रामकरण शर्मा ने ‘औद्योगिक रसायन हमारी वायु एवं पानी को प्रदूषित कर रहे हैं’ विषय पर शोध प्रस्तुत कर लोगों का ध्यान आकृष्ट किया।

सऊदी अरब स्थित इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी में यूरोपियन एवं अमेरिकी वैज्ञानिकों के साथ डॉ. रामकरण शर्मा शोध कार्य कर रहे हैं। परिवार के साथ वह यूनिवर्सिटी के कैंपस में रहते हैं। उन्हें श्रेष्ठ शोध कार्य के चलते पिछले साल इटली में बेस्ट रिसर्च अवार्ड से नवाजा गया था। डॉ. शर्मा ने जापान के फुकूका शहर में हुई विज्ञान प्रतियोगिता में भाग लिया। इसमें जापान के अलावा अमेरिका, फ्रांस, इटली, चीन, इंग्लैंड, जर्मनी, कोरिया, रूस, दक्षिण अफ्रीका, स्पेन और ताईवान समेत 35 देशों के 150 वैज्ञानिक शामिल रहे। एक सप्ताह तक चली प्रतियोगिता में शोध पत्र प्रस्तुत करने के लिए इन 150 वैज्ञानिकों को पहले एक हजार वैज्ञानिकों में से चुना गया था। सभी वैज्ञानिकों ने अपने शोध पत्र प्रस्तुत किए। इसके बाद डॉ. रामकरण शर्मा के शोध पत्र को उच्च श्रेणी का पाया गया और उन्हें युवा वैज्ञानिक पुरस्कार के लिए चुना गया।...

फोटो - http://v.duta.us/xKjhEwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/IarOyQAA

📲 Get Meerut News on Whatsapp 💬