बारिश का सिर्फ 25 फीसदी पानी जा पा रहा जमीन में, विशेषज्ञों ने जताई चिंता

  |   Bhopalnews

भोपाल. मास्टर प्लान-2031 के लिए एप्को परिसर में चल रही कंसल्टेशन वर्कशॉप के तीसरे दिन राजधानी में बेतरतीब और अवैध निर्माणों को लेकर खूब सवाल उठे। नियमों को दरकिनार करने का नतीजा ये हुआ कि शहर में घर-कार्यालयों के लिए मिली अनुमति से 63 फीसदी अधिक क्षेत्र में निर्माण पसर गया।

इसका दुष्परिणाम यह हुआ कि सामान्य स्थिति में बारिश का पानी 53 फीसदी तक जमीन में उतरता है, जो अब 20 से 25 फीसदी रह गया।

यही पानी 70 फीसदी सड़कों, गलियों में बाढ़ के हालात बनाता है। शुक्रवार को पर्यावरण, हैरिटेज, जल स्रोत एवं ग्रीन एरिया विषय पर आयोजित सत्र में आर्किटेक्ट डॉ. शीतल शर्मा ने ये तथ्यात्मक रिपोर्ट रखी। उन्होंने कहा कि जिस विकास योजना पर बात हो रही है, उनमें से अधिकतर काम हो चुके हैं। अब हमें वर्ष 2050 के विकास का खाका खींचना होगा।...

फोटो - http://v.duta.us/w-_b0AEA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/yH_OVAAA

📲 Get Bhopal News on Whatsapp 💬