मेडिकल कॉलेज में खामियां देख बिफरी राज्य महिला आयोग की सदस्य

  |   Shahjahanpurnews

शाहजहांपुर। राज्य महिला आयोग की सदस्य सुनीता बंसल मेडिकल कॉलेज में सबसे पहले इमरजेंसी वार्ड में पहुंचीं। यहां एक मरीज ने शिकायत कर दी कि स्टाफ के लोग शालीनता से बात नहीं करते हैं। इस पर उन्होंने ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर के कपड़े पहनने के तरीके व मरीजों और उनके तीमारदारों से बात करने के तरीके पर कड़ी फटकार लगाई और कहा कि मरीज के साथ शालीनता के साथ बात करें।

उन्होंने कहा कि मरीज व उनके तीमारदार पहले से ही परेशान होते हैं। उनका दर्द समझें और उसका सहयोग करें। इसके बाद वह महिला वार्ड में पहुंची यहां शहर के मोहल्ला कच्चा कटरा निवासी मरीज रूपा शर्मा के शरीर में सूजन पर उसे खून उपलब्ध कराने व जांच कराकर इलाज करने के निर्देश दिए। वह मेडिकल कॉलेज में बनी नई बिल्डिंग में दोपहर एक बजे जब पहुंची, उस समय कोई भी डॉक्टर अपने चेंबर में नहीं मिला। जबकि डॉक्टर के उठने का समय दो बजे है। इस बात पर कड़ी नाराजगी जताते हुए प्राचार्य की फटकार लगाई और दोबारा ऐसा भविष्य में होने पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने खराब अल्ट्रासाउंड मशीन को जल्द शुरू कराने के बावत कहा कि लिखकर दो, मैं अल्ट्रासाउंड शुरू करा दूंगी। मरीजों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता में सुधार करने के निर्देश दिए। दाल पतली और चावल की कम मात्रा देखकर उन्होंने पूछा यह खाना कितने मरीजों का है, इस पर सीएमएस बात को घुमाने लग गए और जानकारी देने से बच गए। जिला अस्पताल में बने किचन का निरीक्षण किया। यहां सफाई व्यवस्था ठीक पाई। ब्लड बैंक के निरीक्षण के दौरान सीएमएस को ब्लड उचित मात्रा में मरीजों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए और कहा एक्सीडेंटल, गर्भवती महिला या डिलीवरी के बाद इमरजेंसी के समय में जरा भी देर ना लगाते हुए ब्लड तुरंत उपलब्ध कराया जाए। पेयजल की व्यवस्था ठीक नहीं होने पर फटकार लगाई।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Km2AWQAA

📲 Get Shahjahanpur News on Whatsapp 💬