रोडवेज डिपो बनकर तैयार, हाईटेंशन लाइन हटने का इंतजार

  |   Lalitpurnews

रोड़ा रोडवेज डिपो में ‘रोड़ा’ बनी हाईटेंशन लाइन

ललितपुर। शहर के निकटवर्ती ग्राम रोड़ा में रोडवेज डिपो का अधिकांश भवन बनकर तैयार हो चुका है लेकिन इसके संचालन में हाईटेंशन लाइन अवरोधक बन गई है। इससे जनपदवासियों को रोडवेज डिपो की सुविधा का लाभ नहीं मिल पा रहा है। यहां लोग आज भी डग्गामार वाहनों का सहारा लेकर यात्रा करने को मजबूर हैं। उधर, विभागीय कर्मियों का कहना है कि बिजली विभाग के मुताबिक एस्टीमेट का भुगतान किए जाने के बाद भी लाइन अब तक हटाई नहीं जा सकी है।

जिला मुख्यालय के समीप स्थित ग्राम रोड़ा में बीते लगभग चार वर्ष पूर्व यातायात की सुविधा के लिए रोडवेज डिपो व कार्यशाला का शुभारंभ किया गया था। डिपो का निर्माण सात एकड़ जमीन पर किया जा रहा था। यहां पर मुख्य भवन के साथ ही कैं टीन, डीजल शेड, गार्ड रूम व कार्यशाला का निर्माण किया जाना था। चार वर्ष में अब तक मुख्य भवन, क ैंटीन, गार्ड रूम, डीजल शेड बनकर पूरी तरह से तैयार हो चुके हैं। केवल एक मात्र भवन कार्यशाला का निर्माण पूरा होना शेष है। जबकि इस भवन का निर्माण सर्व प्रथम शुरू किया गया था। इसका प्रमुख कारण डिपो परिसर के बीचों बीच से निकली विद्युत की हाईटेंशन लाइन है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार इस डिपों का संचालन जनवरी 2018 में बनकर तैयार होना था। लेकिन तय अवधि में निर्माण कार्य पूरा नहीं हो सका। जिसे बढ़ाकर जनवरी 2019 किया गया, इसके बाद भी अब तक इसका निर्माण कार्य पूरा नहीं हो सका है। इसकी प्रमुख वजह कार्यशाला भवन के ऊपर से निकली हाईटेंशन लाइन बनी हुई है। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि तारों का हटाने के लिए बिजली विभाग को सितंबर 2018 में बनाए गए आठ लाख तैंतीस हजार रुपये के स्टीमेट की राशि का भुगतान करा दिया गया था। इसके बाद बिजली विभाग ने संशोधित एस्टीमेट मांगा था। जिस पर विभाग ने दूसरा स्टीमेट बना कर उच्च अधिकारियों की स्वीकृति के लिए आगरा भेज दिया। इसकी जांच के बाद इस स्टीमेट को गलत ठहरा दिया गया है। इस विभागीय त्रुटि का खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है और विभागीय अधिकारी मौन बने हुए हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/9U0kJwAA

📲 Get Lalitpur News on Whatsapp 💬