लाहौल-स्पीति के कारगा में बनेगी सब्जी मंडी

  |   Kullunews

कुल्लू। जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति के कारगा में सब्जी मंडी का निर्माण किया जा रहा है। करीब 15 बीघा भूमि पर बनने वाली सब्जी मंडी कई सुविधाओं से लैस होगी। पैकिंग हाउस, दुकानों के साथ एक भव्य रेस्ट हाउस की सुविधा भी होगी। ऐसे में घाटी के हजारों बागवान मीलों दूर के बजाय लाहौल में ही अपने सेब को बेच पाएंगे।

सब्जी मंडी के निर्माण के लिए एपीएमसी ने जमीन स्थानांतरित करने की फाइल वन विभाग को भेज दी है। क्षेत्र के हिसाब से सूबे के सबसे बड़े जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति मेें अभी तक एक भी सब्जी मंडी नहीं बन सकी है। इससे यहां के किसानों-बागवानों को अपने उत्पाद को 13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रा से होकर प्रदेश व देश की मंडियों में बेचने के लिए ले जाना पड़ता है। रोहतांग दर्रा होकर गुजरने वाला मनाली-लेह मार्ग पहले से ही वाहनों की आवाजाही के लिए अति संवेदनशील रहा है। इस बार भी बरसात के कारण किसानों-बागवानों को परेशानी का सामना करना पड़ा है। आलू और मटर के उत्पादन के लिए विख्यात लाहौल घाटी में अब सेब का भी उत्पादन बड़े पैमाने पर किया जा रहा है। सेब की बेल्ट अब ऊंचाई वाले इलाकों में खिसक रही है। ऐसे में लाहौल में तेजी से बागवानी का क्षेत्र बढ़ रहा है। घाटीवासी राजेंद्र, लामा, अशोक, प्रेम तथा सुरेश ने कहा कि क्षेत्रफल के हिसाब से सबसे बड़े जिले में अभी तक कोई भी सब्जी मंडी नहीं खोली गई है। ऐसे में बागवानों की आधी कमाई किराये में ही खर्च हो जाती है। उन्होंने कहा कि वह दिन दूर नहीं जब लाहौल-स्पीति भी सेब की पैदावार में एक अग्रणी जिला साबित होगा। उन्होंने कहा कि घाटी में सब्जी मंडी का जल्द निर्माण किया जाना चाहिए।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/j-qUsAAA

📲 Get Kullu News on Whatsapp 💬