20 विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को जारी होगा नोटिस

  |   Paurinews

पौड़ी। विकास खंड कल्जीखाल के 20 विद्यालयों के शिक्षकों की लापरवाही से छात्र-छात्राएं भारत स्काउट-गाइड की द्वितीय सोपान परीक्षा से वंचित रह गए हैं। इन छात्र-छात्राओं के सामने परीक्षा में शामिल होने का अब कोई विकल्प नहीं रह गया है। शिक्षकों की इस लापरवाही पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा।

शुक्रवार को ब्लाक कल्जीखाल के विद्यालायों में गठित भारत स्काउट गाइड की द्वितीय सोपान परीक्षा का आयोजन जीआईसी पुरियाडांग में किया गया। भारत स्काउट गाइड के जिला सचिव केशर सिंह असवाल ने बताया कि कल्जीखाल विकासखंड के 27 पंजीकृत विद्यालयों में से मात्र 7 विद्यालयों के स्काउट-गाइड छात्र-छात्राओं ने ही द्वितीय सोपान परीक्षा में प्रतिभाग किया। 20 विद्यालयों के अध्यापक तो परीक्षा में पहुंचे, लेकिन वे अपने छात्रों को नहीं लाए। कहा कि ये अध्यापक भी बिना गणवेश के ही परीक्षा में पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि इन विद्यालयों के छात्रों को अब परीक्षा से वंचित रहना पड़ेगा। भारत स्काउट गाइड परीक्षा उत्तीर्ण करने पर छात्रों को अतिरिक्त अधिमान अंक प्राप्त होते हैं, जो उनके भविष्य में बेहद अहम होते हैं। खंड शिक्षा अधिकारी इदरीस अहमद ने कहा कि शिक्षकों की यह लापरवाही को गंभीर है। कहा कि संबंधित विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को कारण बताओ जारी किया जाएगा। विद्यालय परिसर पर आयोजित कार्यक्रम में छात्र छात्राओं ने शानदार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दीं। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम अधिकारी बालम सिंह राणा एवं मुख्य संयोजक राकेश भारती ने किया। इस अवसर पर पूर्व ब्लॉक प्रमुख एवं विद्यालय संस्थापक सुरेंद्र सिंह नेगी, एसएमसी के अध्यक्ष जसबीर रावत, राउमावि डांगी के पीटीए अध्यक्ष एनएस नेगी, समाजसेवी अशोक रावत, पूर्व प्रधान प्रेम सिंह नेगी, पूर्व प्रधान पंचाली गिरीश चंद्र, राधा देवी, प्रधानाचार्य राइंका पुरियाडांग विजेंद्र सिंह रावत आदि मौजूद थे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/3687iAAA

📲 Get Pauri News on Whatsapp 💬