Mission Chandrayaan : चंद्रयान-2 के संपर्क टूटने पर डीआरडी के महानिदेशक का बड़ा बयान

  |   Jabalpurnews

जबलपुर। जबलपुर का चंद्रयान-2 का अभियान से गहरा जुड़ाव रहा। रानीदुर्गावती यूनिवर्सिटी जबलपुर की छात्रा और इसरो की वैज्ञानिक मेघा टीम में शामिल थीं वहीं जबलपुर के 10वीं कक्षा में पढऩे वाले छात्र सिदक छाबड़ा बैंगलुरू में लैंडिंग के ऐतिहासिक क्षणों का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साक्षी बना। हालांकि अंतिम क्षणों में चंद्रयान-2 के संपर्क टूट जाने से थोड़ी मायूसी जरूर दिखी, लेकिन जबलपुर के एक प्रतिभाशाली वैज्ञानिक रक्षा एवं अनुसंधान विकास केंद्र के महानिदेशक और ब्रह्मोस एयरोस्पेस के प्रबंध संचालक डॉ. सुधीर मिश्रा ने यहां वैज्ञानिकों और लोगों का हौसला यह कहकर बढ़ाया कि विज्ञान में सफलता और असफलता का अंतर बेहद कम होता है। चंद्रयान-टू के लेंडर विक्रम का चांद की जमीन से इतने करीब पहुंचना भी किसी उपलब्धि से कम नहीं है। डॉ मिश्रा शनिवार को जबलपुर में ब्रह्मोस हॉस्टल के उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे थे।...

फोटो - http://v.duta.us/fMyyAwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tpfbBgAA

📲 Get Jabalpur News on Whatsapp 💬