इंदौर पहुंचा मेधा पाटकर का आंदोलन, कमलनाथ सरकार ने Nca से की इमरजेंसी मीटिंग बुलाने की मांग

  |   Madhya-Pradeshnews

इंदौर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) और गुजरात (Gujarat) की सीमा पर बने सरदार सरोवर डैम (Sardar Sarovar Dam) का जल स्तर जैसे-जैसे बढ़ रहा है वैसे-वैसे डूब प्रभावितों का आंदोलन भी तेज होता जा रहा है. हालांकि नर्मदा बचाओ आंदोलन (Narmada Bachao Andolan) की नेता मेधा पाटकर (Medha Patkar) ने भले ही बड़वानी का सत्याग्रह समाप्त कर दिया हो, लेकिन उनके समर्थकों ने आज इंदौर के नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के ऑफिस के बाहर जमकर हंगामा किया. वे (मेधा पाटकर) यहां नर्मदा घाटी विकास मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल (Narmada Valley Development Minister Surendra Singh Baghel) के साथ मीटिंग करने पहुंची थीं. वह आज कमलनाथ सरकार के मंत्री बघेल से डूब प्रभावितों की समस्याओं पर चर्चा करने के लिए इंदौर के एनवीडीए के ऑफिस पहुंची थीं और इस दौरान उनके साथ सैकड़ों की संख्या में पहुंचे धार, झाबुआ, अलीराजपुर, खरगोन, बड़वानी समेत डूब प्रभावित जिलों के ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया और घंटों नारेबाजी की. इस दौरान पाटकर के समर्थक मंत्री की गाड़ी को घेरकर खड़े हो गए. जबकि भारी पुलिस बल भी पहुंचने के बाद स्थिति नियंत्रण में आई....

फोटो - http://v.duta.us/Dbqu8QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/yJrg7AEA

📲 Get Madhya Pradesh News on Whatsapp 💬