कब है अनंत चतुर्दशी, इस दिन व्रत करने से पूरी होती है सभी मनोकामना, जानिए पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

  |   Baloda-Bazarnews

अनंत चतुर्दशी के दिन भगवान विष्णु के अनंत रूप की पूजा होती है। यह भाद्रपद के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी को अनंत चतुर्दशी व्रत होता है।ऐसी मान्यता है कि इस व्रत को यदि 14 वर्षों तक किया जाए तो व्रती को विष्णु लोक की प्राप्ति होती है। भगवान सत्यनारायण की तरह ही अनंत देव भी भगवान विष्णु को ही कहते हैं ऐसा माना जाता है कि व्रत रखने के साथ-साथ यदि जातक श्री विष्णु सहस्त्रनाम स्तोत्र का पाठ करता है, तो उसकी समस्त मनोकामना पूर्ण होती है।

अनंत चतुर्दशी का व्रत करने से पूरी होती है मनोकामना

अनंत चतुर्दशी व्रत का बहुत अधिक महत्व माना गया है।इस बार 12 सितम्बर को अनंत चतुर्दशी मनाई जाएगी। मान्यताओं के अनुसार अनंत चतुर्दशी के दिन व्रत करने से जातक को धन संबंधी सभी परेशानियां दूर होती है, इसके अलावा पुत्र प्राप्ति की कामना भी पूरी होती है। माना जाता है की भगवान विष्णु इस दिन श्रद्धा पूर्वक व्रत करने वाले की सभी मनोकामना पूरी करते हैं व उसके सभी संकट भी हर लेते हैं। इसका जिक्र महाभारत में भी किया गया है। भगवान कृष्ण की सलाह से पांडवों ने भी इस व्रत को उस समय किया था। इसे करने दरिद्रता का नाश होता है। साथ ही दुर्घटनाओं और स्वास्थ्य की समस्याओं से रक्षा होती है।...

फोटो - http://v.duta.us/B4XLRgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4JVOIwAA

📲 Get Baloda-bazarnews on Whatsapp 💬