पानी का दबाव नहीं झेल पाया, 33 करोड़ के बैराज का गेट टूटा, आमनेर नदी का पानी बढ़ता देख दहशत में ग्रामीणों ने बिताई रात

  |   Rajnandgaonnews

राजनांदगांव/ खैरागढ़. गातापार से सटे महाराष्ट्र के जंगलों में हुई तेज बारिश के चलते प्रधानपाठ बैराज में पानी का दबाव बढ़ा और पानी निकासी के लिए खोलने के दौरान लगभग 33 करोड़ की लागत से बने बैराज का एक गेट क्षतिग्रस्त हो गया। इसके बाद बैराज के चारों गेट खोल दिए गए, जिससे आमनेर नदी में पानी का स्तर बढ़ गया था। देर रात स्थिति सामान्य होने के बाद प्रशासन सहित लोगों ने राहत की सांस ली। किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है। लेकिन गेट के क्षतिग्रस्त होने से इसकी गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं।

बैराज में पानी का दबाव बढऩे के बाद सकते में आए सिंचाई विभाग ने बैराज के गेट खोल दिए। इस दौरान तेज बहाव में 70 टन का गेट क्रं दो क्षतिग्रस्त हो गया। शहर सहित सटे इलाकों में आमनेर में तेज बहाव और पानी छोड़े जाने की मुनादी कराई गई। हालांकि विभाग के अधिकारियों ने देररात सूचना जारी कर ताकिद कर दी कि गेट के क्षतिग्रस्त होने से कोई परेशानी नहीं है। केवल रात में पानी बढऩे के अंदेशे के चलते अलर्ट जारी किया गया है।...

फोटो - http://v.duta.us/KcdV7wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/w4nFAAAA

📲 Get Rajnandgaonnews on Whatsapp 💬