World Anti Suicide Day जिंदगी से हारना बुजदिली, टेंशन लिए बिना खुल कर जीएं

  |   Jodhpurnews

जोधपुर.जिंदगी हंसने गाने के लिए है पल दो पल, इसे खोना नहीं खो के रोना नहीं। जिंदगी से प्यार कीजिए। हर प्रॉब्लम को फेस कीजिए। कोई प्रॉब्लम है तो सॉल्युशन पर सोचिए। जिंदगी से हार मत मानिए। वल्र्ड एन्टी सुसाइड डे ( World anti suicide day ) पर साइकोलॉजिस्ट ( Psychologist ) और काउंसलर ( counselor ) माधवी गडकरी ( counselor ) ने पत्रिका ( rajasthan patrika ) से मुलाकात ( interview ) में यह बात कही।

कॅरियर की कौनसी राह

उन्होंने कहा कि आम तौर पर बच्चों पर बचपन से ही यह दबाव रहता है कि वे बड़े हो कर क्या बनेंगे? पेरेंट्स और रिश्तेदार कुछ और कहते हैं तो टीचर्स, क्लासमेट और फ्रेंड्स की राय कुछ और ही जुदा होती है। मन कहता है कि यह बनना है और आसपास का माहौल जुदा ही होता है। एेसे में बच्चा हो या युवा,उसके लिए यह तय कर पाना मुश्किल होता है कि उसे अपने कॅरियर की कौनसी राह चुनना चाहिए।...

फोटो - http://v.duta.us/B7og4AAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/U9T1WgAA

📲 Get Jodhpur News on Whatsapp 💬