[barmer] - लड़कियां कम होने लगीं तो कन्या-कलश में हो रही शादी

  |   Barmernews

सामाजिक बदलाव : अब बाहरी प्रदेशों से ला रहे हैं दुल्हनें

लड़कियां कम होने लगीं तो कन्या-कलश में हो रही शादी

बाड़मेर. क्षेत्र में लड़कियों की घटी संख्या से अब दूल्हों के लिए दुल्हन का संकट खड़ा हो गया है। एक और जहां लड़कियों का कम होना चिंता का विषय है तो दूसरी ओर समाज में सकारात्मक सुधार दिखने लगा है। दहेज की मांग करने वालों के हाल ये हैं कि वे अब कंकू और कन्या (बिना दहेज) शादी को राजी हैं। बेटी के पिता के घर बेटे वाले चक्कर काट रहे हैं। कई समाज में तो लड़कियां इतनी कम हो गई हैं कि जाति बंधन को छोड़कर अब बाहरी प्रदेश से दुल्हनें दाम चुकाकर लाई जाने लगी हैं। 2011 तक की जनगणना में बाड़मेर जिले में 1000 बेटों पर 889 बेटियां ही थीं। कम बेटियों के कारण दस साल से शादी को लेकर समस्याएं आने लगी हैं। लड़कियां नहीं मिलने पर दुल्हन के लिए दहेज की मांग छोडऩी पड़ रही है।...

फोटो - http://v.duta.us/na4D-wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4hM7-wAA

📲 Get Barmer News on Whatsapp 💬