[chhindwara] - डॉक्टर बिना चल रहे इस अस्पताल को लेकर पेंशनर्स हुए लामबंद

  |   Chhindwaranews

छिंदवाड़ा. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल के अंतर्गत छिंदवाड़ा मॉडल स्टेशन परिसर में स्थित रेलवे अस्पताल में काफी मांग के बाद कुछ दिन पहले पदस्थ किए गए डॉक्टर रतिन्द्र डे को रविवार को रिलीविंग ड्यूटी पर नागवीर भेज दिया गया है। ऐसे में रेलवे अधिकारी, कर्मचारियों के साथ पेंशनर्स के सामने फिर से समस्या खड़ी हो गई है। गौरतलब है कि लम्बे समय से रेलवे अस्पताल में डॉक्टर की नियुक्ति नहीं थी। ऐसे में रेलवे कर्मचारियों को इलाज के लिए बाहर की तरफ रुख करना पड़ रहा था। अस्पताल में डॉक्टर की नियुक्ति को लेकर रेलवे कर्मचारियों एवं पेंशनर्स ने कई बार उच्च अधिकारियों से मांग की। इसके फलस्वरूप बीते हफ्ते में डॉक्टर रतिन्द्र डे की संविदा पर एक साल के लिए छिंदवाड़ा रेलवे अस्पताल में नियुक्ति की गई। रेलवे पेंशनर्स एसोसिएशन के जिला पदाधिकारी एसएस राजपूत, डीआर सिगोदिया, द्वारका प्रसाद चंद्रवंशी ने बताया कि डॉक्टर की नियुक्ति को चंद दिन ही हुए थे कि उन्हें रिलीविंग ड्यूटी पर भेज दिया गया। ऐसे तो समस्या हमेशा बरकरार रहेगी। पेंशनर्स का कहना है कि जब डॉक्टर को छिंदवाड़ा के लिए नियुक्त किया गया है तो उन्हें कही और रिलीविंग ड्यूटी पर कैसे भेजा जा सकता है। बताया जाता है कि दपूमरे नागपुर मंडल ने नागवीर में डॉक्टर की कमी की वजह से कुछ दिन के लिए छिंदवाड़ा से डॉक्टर को भेजा है। हालांकि इस फैसले से छिंदवाड़ा के रेलवे अधिकारी, कर्मचारियों में नाराजगी व्याप्त है।

फोटो - http://v.duta.us/dL7lbwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/PkCycwAA

📲 Get Chhindwara News on Whatsapp 💬