[nagda] - इस अस्पताल में ठंड में मरीजों को फर्श पर लेटना पड़ता है, क्योंकि पलंग नहीं हैं

  |   Nagdanews

उज्जैन. निजी की तरह सरकारी अस्पतालों में मरीजों को बेहतर सुविधा देने के दावे होते हैं, लेकिन जिला चिकित्सालय में मरीजों को ठंड में भी फर्श पर लेटना पड़ रहा है। कारण सिर्फ इतना है कि अस्पताल प्रबंधन के पास पर्याप्त बिस्तर व पलंग नहीं हैं। पलंग खाली नहीं होने की स्थिति में मरीज या परिजन को मुश्किल से कंबल आवंटित करवाते हैं और उसी पर लेटकर उपचार करवाते हैं।

जिला अस्पताल सहित अन्य शासकीय अस्पतालों में करोड़ों रुपए खर्च होने के बावजूद मरीजों को आवश्यक सुविधाओं के लिए भी परेशान होना पड़ रहा है। सोमवार को जिला अस्पताल के सी वार्ड में खाली पलंगों की कमी के चलते आधा दर्जन से अधिक मरीज ठंडे फर्श पर लेटकर उपचार करवाते मिले। इन्हें जमीन पर बिछाने के लिए गद्दे तक नहीं मिले। मजबूरी में जिन कंबलों का उपयोग ओढऩे में किया जाता है, उन्हें ही बिछाकर मरीज उपचार करवा रहे थे। मक्सी रोड निवासी सौरभ भटनागर ने बताया, तबीयत खराब होने के कारण वे सुबह उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचे थे। यहां उन्हें एडमिट कर लिया गया, लेकिन पलंग खाली नहीं होने के कारण जमीन पर ही लेटना पड़ा। गद्दा मांगने पर स्टाफ ने इनकार कर दिया। काफी जद्दोजहद के बाद एक कंबल मिला, जिसे बिछाकर वे लेटे और उपचार करवाया।...

फोटो - http://v.duta.us/k95DgwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/xWP8MAAA

📲 Get Nagda News on Whatsapp 💬