[sikar] - इन महिलाओं की बहादुरी देखो, हाथों में थी बंदूक फिर भी नहीं डरी, बदमाशों से यूं भिड़ गई कि जान बचा के भागे

  |   Sikarnews

खाटूश्यामजी.

इलाके में दो महिलाओं ने साहस दिखाते हुए हाथ में लाठी लेकर चोरों को वारदात को अंजाम देने से पहले ही खदेड़ दिया। मामला जालुण्ड गांव का है। यहां रविवार देर रात चोरों ने पहले विधवा शारदा देवी शर्मा के मुख्य गेट के कुंडी लगाकर पड़ोस के गणपतलाल शर्मा के सूने मकान का ताला तोडऩे में लग गए। आवाज सुनकर शारदा ने बाहर आने कि कोशिश की तो बाहर से दरवाजा बंद मिला। शारदा ने पास में रह रही गीता शर्मा को आवाज देकर पास की मकान के चोरों द्वारा ताले तोडऩे की बात बताई। गीता और शारदा हाथों में लाठियां लेकर दूसरे रास्ते से बाहर आई तो चोर मकान के ताले तोड़ रहे थे। दोनों महिलाए लाठियां लेकर चोरों के सामने हो गई। बाहर खड़ा चोर हाथ में लाठी लेकर हमारे उपर हमला करने लग गया। मकान के अन्दर घुसे दूसरे चोर ने बाहर खड़े चोर को आवाज लगाई कि बंदूक लेकर आ। बंदूक की बात सुनकर महिलाओं ने हिम्मत दिखाते हुए शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर मचाने पर आसपास के लोग बाहर आ गए तो चोर वहां से एक गाड़ी में बैठकर भाग छूटे। गांव के ताराचंद वर्मा ने बताया कि चोरों के पास बोलेरो गाड़ी थी और वह दांता की ओर भाग छूटे। चोरों ने मकान के मुख्य गेट और दो कमरों का ताला तोड़ दिया। मगर महिलाओं की सजगता के चलते चोर वारदात को अंजाम नहीं दे पाए। इन महिलाओं के साहस की चर्चा दिनभर गांव में होती रही। ग्रामीणों ने कहा कि इनकी वजह से चोर और वारदात को अंजाम नहीं दे पाए। इससे पहले चारों ने पलसाना में वारदात को अंजाम देने के बाद धींगपुर गांव के बाजार में स्थित ओमप्रकाश अग्रवाल व मूलचन्द अग्रवाल की दुकान का ताला तोड़ दिया। चोरों ने ओमप्रकाश की दुकान से दस हजार की नकदी और छह चांदी के सिक्के रखा गल्ला लेकर फरार हो गए। मगर वहीं पास की दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी में नकाब पहने दो चोर कैद हो गए। सूचना पर दोनों गावों में खाटू पुलिस ने घटना स्थल का जायला लेकर सीसीटीवी को देखा और लोगों से जानकारी ली।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/0sJqwQAA

📲 Get Sikar News on Whatsapp 💬